Home/2009/July

दोस्त -पक्ष

By |2017-09-25T12:56:58+00:00July 9th, 2009|HIndi Debates|

आपने आज का अखबार पढ़ा कल् के मुख्या समाचार पढे . क्या सन-सनी देखा. गुडगाँव ए क एक स्कूल में क्या हुआ? क्यो हो गए चुप? क्यों उतर आई निराशा आपकी आंखों में? कारन / सपष्ट है. ये सुब घटनाये उन दोस्तों की दस्ता बयां करती है जो हमारा आज वाद-विवाद प्रतियोगिता का विषय है. [...]

दोस्त -दोस्त न रहा – विपक्ष

By |2017-09-25T12:57:06+00:00July 9th, 2009|HIndi Debates|

विपक्ष " यह दिन न कभी हम भूल पायेंगे तुम्हारी दोस्ती के बिना हम जी नही पायेंगे याद आएँगी सिर्फ़ तुम्हरी ही बातें यही शब्द होठो पर लेकर जायेंगे” यह हम सभी जानते हैं की हमारे जीवन में दोस्त की कितनी अहम् भूमिका होती है। दोस्ती एक एहसास है जिसे हम महसूस करते हैं। हमें [...]

पुरस्कृत-पक्ष

By |2017-09-25T12:57:17+00:00July 2nd, 2009|HIndi Debates|

पक्ष में आप सभी से पूछना चाहती हु की २१ वि शताब्दी में भारत की नारी को अबला समझना कहाँ तक उचित है। आज की नारी शक्ति और क्षमता किसी से छुपी नही है। आगे ने कहा है - दो-दो मात्राए लेकर है नर से भारी नारी नारी दो-दो मात्राए कारन करने मात्र से ही [...]

Go to Top