[ultimatemember form_id=12643]
/Tag:चिंतन

ध्यान को समझो

By | 2017-09-25T12:35:00+00:00 May 21st, 2011|Hindi Blog & Stories|

भटकन हमारा सबसे बड़ा शत्रु है |इससे बचने का एक मात्र उपाय है ध्यान | ध्यान में तीव्र आभा है ,ध्यान में प्राणों की गति आकंठ डूबीं रहती है | ध्यान मौन है |ध्यान करने से अंतश्चेतना के बाकी सभी अंग मौन हो जाते है | ध्यान के सामने समर्पण निश्चित चेष्टा है | समर्पण [...]

Pin It on Pinterest