[ultimatemember form_id=12643]
//December

दामिनी का बलिदान

By | 2018-01-16T12:40:03+00:00 December 29th, 2012|Hindi Blog & Stories|

दामिनी की दमक कभी व्यर्थ नहीं जाती | वह अपनी लपलपाती चमक से सबको चमत्कृत कर ही जाती है | कभी किसी इमारत पर गिरती है तो वह ध्वस्त हो जाती है ,कभी किसी हरे भरे वृक्ष पर गिरती है तो वह पल भर में समूल नष्ट हो जाता है | २३ वर्ष की दामिनी [...]

>

Pin It on Pinterest