[ultimatemember form_id=12643]

Monthly Archives: April 2011

//April

द्रौपदी पुत्र

By | April 22nd, 2011|Hindi Blog & Stories|

द्रोपदी और युधिष्ठिर का पुत्र ---प्रतिविन्ध्य था | द्रोपदी और भीम का पुत्र ----सुतसोम था| द्रोपदी और अर्जुन का पुत्र ---श्रुतिकीर्ति था | द्रोपदी और नकुल का पुत्र ----शतानीक था | द्रोपदी और सहदेव का पुत्र --- श्रुतसेन था |

प्रशंसा करने में हिचकिए मत

By | April 19th, 2011|Hindi Blog & Stories|

प्रशंसा करने में हिचकिए मत - १ अच्छाइयों के प्रकाश में बुराईयों का अन्धकार स्वत: ही दूर हो जाता है २ प्रशंसा व्यक्ति के अंदर छिपी प्रतिभा को जाग्रत कर कर्म के प्रति उत्साह एवं लगन की भावना पैदा करती है ३ प्रंशसा ऐसा जहर है जिसे अल्प मात्रा में ग्रहण किया जाना चाहिए क्योकि [...]

पत्र क्या है

By | April 19th, 2011|Hindi Blog & Stories|

पत्र क्या है_.....पत्र के बारे में आज कुछ एसी पंक्तियाँ पढ़ीं कि दिल बाग -बाग हो गया और सोचा कि आप सब को भी यह आनन्दप्राप्त करने का अवसर दूँ - पत्र क्या है ;मानो स्नेह के ऐसे पक्षी जो दूर -दूर से अपनों का प्यार लेकर आते हैं ;मेरे कमरे का चक्कर काटतेहैं और [...]

महाभारत युद्ध के १८ दिन

By | April 18th, 2011|Hindi Blog & Stories|

महाभारत युद्ध के १८ दिन ........... महाभारत युद्ध के प्रथम दिवस -विराट पुत्र -उत्तर और श्वेत का वध हुआ था | प्रथम दिवस ध्रष्टद्युम्न ने क्रोचारुण व्यूह की रचना की थी | पहले ९ दिन कौरवो की सेना के सेना नायक पितामह भीष्म रहे | दूसरे दिन घमासान युद्ध हुआ |भीष्म के पराक्रम के सामने [...]

अर्जुन की पत्नियाँ

By | April 16th, 2011|Hindi Blog & Stories|

द्रोपदी और युधिष्ठिर का पुत्र ---प्रतिविन्ध्य था | द्रोपदी और भीम का पुत्र ----सुतसोम था| द्रोपदी और अर्जुन का पुत्र ---श्रुतिकीर्ति था | द्रोपदी और नकुल का पुत्र ----शतानीक था | द्रोपदी और सहदेव का पुत्र --- श्रुतसेन था |

कर्ण का परिवार

By | April 16th, 2011|Hindi Blog & Stories|

कर्ण के घोड़े का नाम .... वायुजित था और रथ का नाम जैत्र रथ था अर्जुन का रथ नंदी घोष था .जिसे कृष्ण ने चलाया था कृष्ण के रथ का नाम था ...गरुनाध्वज. भीष्म के रथ का नाम था ...गंगोध . कर्ण का परिवार ..... पिता ......सूर्य ....माता ..कुन्ती ....जन्म दाता अधिरथ ...पिता ...माता ...राधा [...]

प्रसिद्ध शंख

By | April 16th, 2011|Hindi Blog & Stories|

कृष्ण के रथ का नाम था ...गरुनाध्वज. भीष्म के रथ का नाम था ...गंगोध . भीष्म के शंख का नाम ...गंगनाभ था अर्जुन के शंख का नाम ...देवदत्त  था कृष्ण के शंख का नाम ...पंचजन्य था धर्ष्टद्युमना के शंख का नाम ..यज्ञ घोष  था भीम के शंख का नाम ...पौण्ड्र था कर्ण के शंख का [...]

पाण्डव और उनकी पत्नियाँ

By | April 16th, 2011|Hindi Blog & Stories|

पाण्डव और उनकी पत्नियाँ _ युधिष्दिर की पत्नी द्रोपदी से प्रतिविन्ध्य पुत्र था | दूसरी पत्नी पौरवी थी |उनका पुत्र देवक था | भीम और द्रोपदी का पुत्र सुतसोम था | भीम और हिडिम्बा का पुत्र घटोत्कच था भीम की तीसरी पत्नी बलंधरा का पुत्र शरपत्रात था | भीम की चौथी पत्नी ;शिशुपाल की बहन [...]

error: Content is protected !!
mautic is open source marketing automation